सोमवार, 6 फ़रवरी 2012

FOOD EGOTISM

तयशुदा आहार =  अकसर माताओ व बहनों के मुह से सुनने में आता की मेरा बेटा या बेटी तो अमुक ब्रांडेड कम्पनी का ही नास्ता व खाना खाता   है .[१]  यह दुबला पतला बहुत है ,[२] खुराक कम है  [३] दूध ही पिता  [४] सब्जी नहीं खाता  [5] मोटा ताजा होता जा रहा है,  जैसे  अमेरिका में बच्चे मोटे बहुत होते जा रहे है ..................अगर देखा जाये तो बच्चे को खाना, खाना सिखाया  किसने .....माता पिता या परिवार  ने ही तो खाने की प्रेरणा को विकसित किया........................................................................................................................ .संतुलित आहार खाने की प्रेरणा तो अभिभावक को ही देनी पड़ेगी .