रविवार, 11 मार्च 2012

abillity motivation

बीमारी आमन्त्रण  =  [ १ ] आहार का स्वतन्त्रं अवस्था में चुनाव  मानव जिस समय खाना खाते उस समय मन में जो भी आता वही भोजन करने पर उतारू हो जाते है, नफा - नुकसान के बारे में नही विचार करके तय शुदा विचारो का गुण गान के स्वाद में आदमी भर पेट भोजन कर जाता है , [ २ ] प्रेरणा वशीभूत अवस्था  मानव जब कभी अवसरवाद के कारण प्रेरणा के वशीभूत जैसा जो मिलता उस भोजन को दम-दमन की जो स्थति अनुकूल बनते ही उस भोजन को प्राप्त करने की पूरी कोशिश करता है, और मनोवृति अपने  माता पिता या दोस्त से जो आहार ग्रहण करना सिखा उसी को स्थान्तरण अपने अनुजो को प्रदान करता है [ ३ ] प्रतिरोध की अवस्था  शर्मनाक एवं चिंता उत्पन्न करने वाले आहार की बात आती तो वह भोजन करने वाला उसकी जगह पर शरीर में उन आहारो के प्रति उसकी जगह बनावटी पोष्टिक आहार की बात करने लगता है ...