शनिवार, 2 जून 2012

फाइबर

फाइबर [ रेशा ] 
प्राकृतिक फाइबर बेहद पाचक  होता है और यह फाइबर प्राकृतिक साबुत अनाजों में जैसे जो, गेहू, दालो, मेथी और चना में भी पाया जाता है. आज कल डिब्बा बंद फायबर खाद्य पदार्थ का बाजारों में भी उपलब्ध होते है और इनमें मोलेक्यूल्स (छोटे कण) मिलाए जाते हैं. जिन को फंक्शनल फाइबर नाम से जाना जाता है. .ज्यादातर प्रोसेसिंग आहार में उपयोग किया जाता है. फाइबर रक्त में चक्कर [ शुगर ] के अवशोषण  की प्रक्रिया को धीमी गति कर देता है. रक्त शर्करा को संतुलित स्तर बना ये रखने को फायबर के साथ कार्बोहाइड्रेट को समान रूप से अनाज दाल सब्जियों का सेवन जरूरी होता है. आधुनिक खोजों से ज्ञात हुआ की जिन लोगो ने अपने खान पान में नियमित रूप से फाइबर को सेवन किया और जीन लोगो ने फाइबर सेवन नही किया उस की तुलना में अपना वजन तेजी से घटाया क्योंकि जो फाइबर पेट में अधुलंशील होते उससे ऐसा लगता की थोडा खाने पर भी पेट भरा भरा लगता है इस कर भूख से ज्यादा आदमी खा नही सकता. और घुलनशील फाइबर से आक्सीकरण अच्छा होता है जिस से हृदय रोगों का भी समाधान हो जाता है. जो रक्त में कोलेस्ट्राल का स्तर घटाने में मदद करता है. एवं फाइबर युक्त आहार खाने से हमारी ऑतो में प्रोबायोटिक्स यानि लाभ दायक बैक्टीरिया का भी निर्माण होता है  ...