मंगलवार, 26 अगस्त 2014

जहरीले कीटनाशक से कब तक बचोगे ?


अब आप बच नही सकते जहरीले कीटनाशक दवाओं से क्योंकि इस योजना में सरकारी करण होने से भोलीभाली जनता के बचाव का कोई उपाय नहीं. कीटनाशक दवाइयों के उत्पादन से लेकर वितरण निर्देशों के अनु पालन फसल उत्पादन में किसी का प्रकार सतर्कता पूर्वक कार्यक्रम को संदेहास्पद नहीं देखा जाता. आज छोटे-बड़े सभी किसान या आहार और पेय उत्पादकों के सरकारी मानक दिशा निर्देशों के विपरीत जहरीले कीटनाशक उपयोग किया जाता जिससे आप के हृदय, गुर्दे या लीवर कैंसर ग्रस्त कब कैसे धीमी गति से हो जाये तो आप को पता भी नही चलेगा, स्वास्थ्य के लिए अपूरणीय क्षति का कारण बन सकता है. जैसा की ग्रीनपीस इंडिया द्वारा प्रकाशित एक ताज़ा रिपोर्ट को पढ़ने पता चला, मेरी व् आप की चाय में डीडीटी, एंडोसल्फान और मोनोक्रोटोफॉस तरह अननुमोदित कीटनाशकों कर रहे हैं कि पता लगाने के लिए चौंक गया था. आप ने पढ़ा होगा की एंडोसल्फान बिहार में 23 स्कूली बच्चों की जान ले ली है, जो केरल और मोनोक्रोटोफॉस में भयानक कासरगोड त्रासदी से जुड़े एक ही बीमार जहरीले कीटनाशक है. इसलिए सावधान आप प्रतिदिन रहें और अपने जीवन में स्वास्थ्य का ध्यानपूर्वक अध्ययन भी करे.