शनिवार, 14 मई 2016

गीता को पथरी

श्री  मति गीता पत्नी श्री किरन सिंह को  पांच बार गुर्दों की पथरी का आपरेशन हुआ, एक  बार शल्यचिकित्सा [ चिर फाड़ ] चार बार लेज़र, किरन से  [ दूरबीन से ] ऑपरेशन कराया, अब दोनों गुर्दों में पथरी का होना पाया गया. दाया गुर्दा में 4.4 mm और  बाया गुर्दा में 4.6 पथरी का अल्ट्रासाउंड परीक्षण से ज्ञात हूँ , आज  उपचार शुरू किया गया 15  दिनों बाद वापस दिखाने को बोला. 30 - 05 - 16 को रेखा शर्मा से से अल्ट्रा सोनोग्राफी करवाई तो दाया गुर्दा में 14 MM पथरी होना बताया hydronephrasis के साथ और बाए गुर्दे में 9 MM की पथरी बताई गई . इसके बाद करीब 15 दिनो के उपचार बाद 31-05-2016 डाक्टर पुरोहित हॉस्पिटल नाथदुवारा सोनोग्राफी करवाई जिसमें बाएँ  गुर्दे में पथरी निकल चुकी बताई गई, और दायें गुर्दे में 6.4 MM पथरी का होना बताया. आज 24-06 -2016 को गीता अपने पिता के साथ शर्मा हॉस्पिटल राजसमन्द से सोनोग्राफी करवा के आई जिसमे एक दाया गुर्दा में 6-7 MM पथरी का होना बताया गया जो मुझे संदेहास्पद भी लगता है. फिर भी यह एक सत्यापन हुआ की गीता के बाए गुर्दे से पथरी निकल चुकी बाकी रही दूसरे दाया गुर्दा में पथरी जो भी है उसका उपचार जारी हैं. बार बार आपरेशन से गुर्दा कमजोर हो जाता है. और  पथरी  भी बार बार निरंतर बनती रहती है, इसका कारण की अपनी जीवनशैली के आहार लेने के कारण होती रहती है. आज 11-07-16 को चौथी बार उपचार दिया गया. अल्ट्रासाउंड नहीं कराने का कारण रुपया खर्च होना बताया गया.