रविवार, 17 जून 2012

शर्म

मेरा शर्माना कैसे दूर करूँ
मेरा नाम या लिंग से पुरुष हूँ परन्तु क्या करूँ में स्त्रियों की भाती शर्माता हूँ, कृपया अधिक जानकारी दें ऐसा क्यों होता है .. इस प्रकार का सवाल आया. चिकित्सक होते मेरा दायित्व बनता सो उत्तर .........
कभी-कभी हारमोंस के बदलाव की वजह से भी हो सकता हैं, कभी कभी हस्तमैथुन की वजह से भी हो सकता है, कभी कभी अपराध गम्य बोध से भी हो सकता है और कभी-कभी संस्कार की वजह से भी हो सकता हैं, कभीकभार अभिभावकों के दुवारा बच्चो को अत्यधिक अनुशासन या पिटाई की वजह से भी हो सकता हैं,
प्रति एक के लिए नैदानिक चिकित्सा की आवश्यकता हो सकती है. एक आदम कद शीशे के सामने खड़े होकर अपनी आँखो में आखे डाल कर स्वंय से संवाद करे, अथवा कोई कविता पाठ या भाषण बोलने का अभ्यास करे, आप की समस्या हल हो जायेगी.