गुरुवार, 13 सितंबर 2012

भारतीय योग

भारतीय योग, जो जाना पहचाना लगता है, परन्तु योग को पश्चिमी देशो ने गलत उच्चारणों के कारण योग का योगा जो संधि, योग + आसन = योगासन से विकृत रूप योगा बन गया है . आज की भाषा में योग या योगा शब्दों के सुनने पर मानव देह की कसरत को मान लेते है या समाधि या मेडिटेशन को कहते  है. परन्तु योग का अर्थ होता है अप्राप्ति की प्राप्ति यानि दो संख्या और दो संख्या कुल संख्या चार होते जो चार की संख्या पहले प्राप्त नही थी वो अब किसी आपसी दो संख्या के मिलने से तीसरे संख्या की प्राप्ति एक योग होता है पुनः: जैसे 3+2 = 5 यह फल योग कहलाता है जो मानसिक हो या शारीरिक अथवा आपसी दैनिक दिनचर्या के तौर से कर्मफल बनता हो उन सभी को योग ही कहते है ...