रविवार, 21 अक्तूबर 2012

आप का वीर्य उत्पाद कैसा है, जानिये इस लिखे लेख को पढ़ कर

नपुसंकता या पुसन्कता, मर्द या नामर्द =  औरत के श्रंगारका कारण वीर्य ही होता, आत्म संमान्य  पुरुष पुरस्कार वीर्य जब पतला हो, शीघ्र पतन हो तो मर्द और औरतों दोनों अपमानित महसूस करते है, एक गाय, भेंस या बकरी के वंश वृद्धि के लिए शर्म नही करके उसका मिलन का उपाय करते परन्तु समाजवादी ने शर्म के मर्म फैला कर किसी न किसी को उस परिवार के प्रति कानाफूसी करते रहते है, पुत्र, पुत्री रत्न प्राप्ति के लिए सामान्यतया एक पुरुष वीर्य स्खलन के लिये २ ओर ५ एम .एल [ m.l.] की मात्रा की आवश्यकता होती है. असमर्थता वीर्य की इस हिस्से या भाग के उत्पादन स्वास्थ्य या शारीरिक हालत पर निर्भर करता है. शरीर के ठीक ढंग से कार्यक्रम के लिए मानसिक एवं शारीरिक खाद्य पदार्थ खाने और पर्याप्त एक निश्चित पीने के पानी की मदद से वीर्य को वीर्य पात, वीर्य के पतलापन या शीघ्र पतन से बचाव किया जा सकता है. वीर्य वृद्धि से गतिशीलता और शुक्राणु की गतिशीलता को बनानेवाली खुराकों को लेना की आवश्यक होती है, और उपयुक्त पानी के बिना, शरीर या तन निर्जलीकरण से वीर्य या शुक्राणु की सामान्य मात्रा में उत्पादन नहीं होती है. पुरुषों के लिए पानी की कम से कम चार गिलास या छ गिलास की प्रत्येक दिन का उपभोग करने की आवश्यकता होती है. वीर्य या शुक्राणु हीनता की मात्रा को बढ़ाने वाले आहार जों पानी को शरीर में रोकने की क्षमताओं से भरपूर ताकत हो की आवश्यकताओं का ध्यान पूर्वक ग्रहण करना जरूरी होता है. जिस से लम्बे समय तक मजबूत वीर्य वान  के लिए पाचनक्रिया के भोजन का ध्यान देना जरूरी है. इस के लिए नियमित पर्याप्त पोषक तत्वों से भरपूर भोजन कीजिये और वीर्य को मजबूत उत्पाद के रूप में स्वीकार कीजियेगा ... जिसमें आप को अतिरिक्त और पूरक भोजन की आवश्यकता हो सकतीं हैं, जो आपके दैनिकों आहारो का मानक आहार विशेषज्ञों से परामर्शदाता के संपर्कों से मिल सकतीं हैं. अपनी खोयी हुईं मर्दाना ताकत दोबारा पाया जा सकता है, जवानी की ग़लतियों के कारण अगर आप ने अपना जीवन बर्बाद कर दिया हो तो घबराने की अब जरूरत नहीं आप हमसे शुल्क दें कर परामर्श ले सकते हैं.
   State bank of india [ भारतीय स्टेट बैंक ] के किसी भी शाखाओं के एकाउंट में जमा करने के बाद ईमेल से चिकित्सा परामर्श मिल जायेगा जो पूर्णतया गोपनीय [ गुप्त ] रखा जायेगा.
परामर्श शुल्क 200 / रूपये
 State bank of india
Raghunath singh ranawat
Jal chakki - 30397
Account no : 20207607579